खुलने दो Khulne Do - Arijit Singh Lyrics

खुलने दो Khulne Do - Arijit Singh Lyrics


Singer Arijit Singh
Music Shankar Ehsaan Loy
Song Writer Gulzar

Khulne Do Lyrics in Hindi


मैली मैली सी सुबह धुलने लगी है
मैली मैली सी सुबह धुलने लगी है
गिरह लगी थी साँस में, खुलने लगी है
खुलने लगी है..

बर्फ की डली थी कोई घुलने लगी है
गिरह लगी थी साँस में, खुलने लगी है
खुलने लगी है..

खुलने दो.. खुलने दो..
आसमां खुलने दो
खुलने दो.. खुलने दो..
आसमां खुलने दो 

उजाला हो तो जाएगा कहीं ना कहीं से
अंधेरा भी छटेगा ही कभी तो ज़मीन से
पलकें तो नही है नज़र उठने लगी है
गिरह लगी थी साँस में, खुलने लगी है
खुलने लगी है.. 

खुलने दो.. खुलने दो..
आसमां खुलने दो
खुलने दो.. खुलने दो..
आसमां खुलने दो

खुलने दो..


Play Khulne Do Song Click here


For download Lyrics PDF File Click Here








Post a comment

0 Comments